उत्तराखंड: CM तीरथ ने उद्योगपतियों से मांगी मदद, विश्वस्तरीय सुविधायुक्त अस्पताल बनाएगा बालाजी बिल्डवेल

फाइल फोटो

देहरदून
: प्रदेश में कोरोना संक्रमण के कारण मामलों में लगातार वृद्धि के कारण चिकित्सा उपकरणों में कमी तो आम बात है। ऐसे में मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने राज्य में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों पर रोक लगाने के लिए देश के उद्योगपतियों के साथ वर्चुअल बैठक की। वहीं उन्होंने बैठक में कोरपोरेट सोशल रिस्पांसिबिलिटी (सीएसआर) के तहत राज्य के लिए चिकित्सा उपकरण की मदद भी मांगी। साथ ही मुख्यमंत्री ने ये भी कहा कि सभी के सहयोग से मिलजुलकर कोरोना महामारी पर विजय प्राप्त की जा सकती है। 

यह भी पढ़ें:उत्तराखंड में बिगड़ेगा मौसम , इन जिलों के लोग हो जाएं सतर्क

बता दें कि मुख्यमंत्री ने राज्य में कोविड-19 के बढ़ते संक्रमण पर काबू पाने के लिए देश के जाने-माने उद्योगपति और हीरो मोटोकॉर्प ग्रुप के प्रबंध निदेशक पवन मुंजाल के साथ सोमवार को वर्चुअल बैठक की। वर्चुअल बैठक में हीरो मोटरकॉर्प ग्रुप के भारतेंदु कवि, एस जागीरदार और सलोनी उपस्थित थीं। वहीं प्रबंध निदेशक पवन मुंजाल ने मुख्यमंत्री को कोरोना की रोकथाम में हरसंभव सहयोग देने का भरोसा जयाता है। वहीं मुख्यमंत्री तीरथ ने बालाजी एक्शन बिल्डवेल के पदाधिकारियों के साथ भी वर्चुअल बैठक की। बिल्डवेल ने सितारगंज में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के नवनिर्माण और जीर्णोद्धार का प्रस्ताव राज्य सरकार के समक्ष रखा। वहीं प्रस्तुतीकरण में बताया गया कि संस्थान सितारगंज में विश्वस्तरीय सुविधायुक्त अस्पताल का निर्माण करना चाहता है। 

यह भी पढ़ें:उत्तराखंड: विधायक भरत चौधरी कोरोना संक्रमित, AIIMS में हुए भर्ती

जानिए अस्पताल में सुविधाओं के बारे में-

  • -बता दें कि अत्याधुनिक उपकरणों से सुसज्जित इस अस्पताल में मरीजों को सभी जरूरी सुविधाएं मिलेंगी।
  • - उच्चस्तरीय टेस्टिंग लैब और ब्लड बैंक की सुविधा होगी।
  • - संस्थान के प्रतिनिधियों ने जानकारी देते हुए बताया कि अस्पताल में एलोपैथिक चिकित्सा के साथ ही होम्योपैथिक और आयुर्वेदिक चिकित्सा पद्धति से भी उपचार उपलब्ध होगा। 
  • -अस्पताल के कैफेटेरिया और कैंटीन में पौष्टिक और संतुलित आहार मरीजों को दिया जाएगा।
  •  साथ ही मुख्यमंत्री ने कहा कि अत्याधुनिक सुविधायुक्त अस्पताल के निर्माण में सरकार हरसंभव सहयोग करेगी। राज्य में स्वास्थ्य सुविधाओं में सुधार और उनके विस्तार के लिए निजी क्षेत्र को आगे आने और मिलजुलकर कार्य करने की आवश्यकता है।

0/Post a Comment/Comments

Stay Conneted

Hot Widget