उत्तराखंड: शराब पर सरकार की नियत साफ़ नहीं, कहीं खुली तो कहीं बंद हैं दुकाने

 फाइल फोटो

काशीपुर
: नगर में शराब की दुकानों का खुलना चर्चा का विषय है. रुद्रपुर सहित जिले के विभिन्न क्षेत्रों में शराब की दुकानें बंद चल रही हैं और काशीपुर में दुकानों को खोला जा रहा है. ऐसे में सवाल पैदा हो रहा है कि नियम तो सभी के लिए एक है फिर पालन अलग-अलग क्यों किया जा रहा है. जिम्मेदार विभाग भी कुछ स्पष्ट नहीं कर पा रहे हैं कि शराब की दुकानें खुलनी चाहिए या नहीं.

यह भी पढ़ें:उत्तराखंड: गाँवों में भी पैर पसारता कोरोना, पिछले साल के मुकाबले दो गुना हुए मरीज़

शराब दुकानों को लेकर नहीं है कोई स्पष्ट आदेश: 

कोरोना महामारी को देखते हुए राज्य में कई जगहों पर लॉकडाउन किया गया है. जिसमें आवश्यक वस्तुओं को छोड़कर सभी दुकानों को बंद रखा जाना है. डेयरी, सब्जी, फल, खाद्यान्न, मेडिकल स्टोर आदि को छोड़कर सभी दुकानें बंद चल रही हैं. अगर कोई अन्य दुकानदार दुकान खोलता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जा रही है, लेकिन आश्चर्य की बात यह कि शराब की दुकानें लॉकडाउन में भी खुल रही हैं. गुरुवार को नगर के गंगे बाबा रोड सहित विभिन्न क्षेत्रों में शराब की दुकानें खुली हुई देखी गईं. जबकि नगर की ही कुछ दुकानें बंद भी रहीं.

यह भी पढ़े:उत्तराखंड: कांग्रेस ने तीरथ सरकार को घेरा, कहा महाकुम्भ से फैला कोरोना

 जिला आबकारी अधिकारी कैलाश बिजोला भी दुकानों के खुलने न खुलने को लेकर स्पष्ट रूप से कुछ नहीं बता सके. उन्होंने कहा कि इस संबंध में प्रशासन की ओर से आदेश जारी किया गया है. दुकानें बंद रहनी चाहिए या खुलनी चाहिए इस संबंध में वह स्पष्ट रूप से कुछ नहीं बता सके. तहसीलदार विपिन चंद्र पंत भी शराब की दुकानों को लेकर कुछ स्पष्ट नहीं कर सके. उन्होंने कहा कि प्रशासन को जो आदेश जारी करना था किया जा चुका है. पालन कराने की जिम्मेदारी पुलिस की है. एसपी प्रमोद कुमार ने बताया कि फिलहाल किसी आदेश में यह स्पष्ट नहीं है कि शराब की दुकानें बंद रहनी चाहिए या खुली रहनी चाहिए. उन्होंने कहा कि अगर भविष्य में कोई स्पष्ट आदेश आता है तो उस पर कार्रवाई की जाएगी

0/Post a Comment/Comments

Stay Conneted

Hot Widget