उत्तराखंड: बिना मास्क डोली उठवाने चले मुकेश कोली, दर्ज हो BJP विधायक के खिलाफ केस

फोटो: कोविड गाइडलाइन की धज्जियाँ उड़ाते पौंडी विधायक



पौंडी गडवाल
:  पूरा प्रदेश कोविड-19 की लहर में संक्रमित हो रहा है ऐसे में प्रदेश सरकार की ओर से सभी विधायकों और जनप्रतिनिधियों से आग्रह किया गया है कि वह अपने क्षेत्र में स्वास्थ्य व्यवस्थाओं को बेहतर बनाने का प्रयास करें. साथ ही कहा गया है कि लोगो की अधिक से अधिक मदद कर सकें. इसके साथ ही केबिनेट मंत्री हरक सिंह की ओर से बयान जारी किया गया है कि शादियों को कुछ समय के लिये स्थगित कर दिया जाय ताकि संक्रमण न फैले.

यह भी पढ़ें:उत्तराखंड के दो बेटों ने लंदन में लड़ा था चुनाव, रिजल्ट आ गया है यहाँ देखिये

सरकार के प्रवक्ता सुबोध उनियाल की ओर से भी बयान दिया गया है कि विवाह समारोह से संक्रमण और तेजी से फैल रहा है. लेकिन दूसरी ओर भाजपा के पौड़ी के विधायक मुकेश कोली इन दिनों पौड़ी पहुंचकर विवाह में शामिल होकर वापस देहरादून जा रहे हैं. साथ ही कोविड की जो गाइडलाइंस है उनका भी उल्लंघन करते हुए नजर आ रहे हैं. विधायक ने शादी समारोह में शमिल होकर न सिर्फ कोविड गाइडलाइन का उल्लंघन किया है बल्कि अपने शीर्ष नेत्र्तव द्वारा दी गयी नसीहतों को भी नज़रंदाज़ किया है.

विधायक को बर्खास्त करने की उठी मांग:

एनएसयूआई के पदाधिकारियों ने मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजकर पौड़ी विधायक को बर्खास्त करने की मांग की है, एनएसयूआई के प्रदेश सचिव मोहित सिंह ने बताया कि पौड़ी विधायक मुकेश कोली को पद से बर्खास्त कर देना चाहिए. कोरोना के इस दौर में पौड़ी विधायक मुकेश कोली को जनता के बीच होकर स्वास्थ्य व्यवस्थाओं को बेहतर बनाना चाहिए था लेकिन पौड़ी विधायक देहरादून में आराम फरमा रहे हैं और जब पौड़ी में कोई शादी भंडारों का आयोजन हो रहा है .

यह भी पढ़ें:उत्तराखंड में आज फिर टूटे कोरोना के सारे रिकॉर्ड, नौ हज़ार से ज्यादा मामले 137 ने तोड़ा दम

 वह देहरादून से बिना कोविड जांच करवाएं सीधे शादी समारोह में सम्मिलित हो रहे हैं. साथ ही सोशल मीडिया में डाली फ़ोटो में साफ दिख रहा है कि वह ना ही मास्क का सही प्रयोग कर रहे है और ना ही सामाजिक दूरी का ध्यान रख रहे हैं. ऐसे में अन्य लोगों को भी संक्रमण फैलने का खतरा बढ़ रहा है.


0/Post a Comment/Comments

Stay Conneted

Hot Widget