उत्तराखंड जान गंवाने वाले मामलों में हिमालयी राज्यों में प्रथम, देश में टॅाप-10 पर पहुंचा


फाइल फोटो

देहरादून
: प्रदेश में कोरोना महामारी से लोगों की मौत का आंकड़ा अब इस कदर बढ़ने में लगा हुआ है कि रूकने का नाम नहीं ले रहा। इस रेस में सबको पछाड़ते हुए अब राज्य हिमालयी राज्यों में प्रथम और पूरे देश भर में टॅाप-10 में पहुंच  गया है। बता दें कि कोरोना संक्रमण से मौत के मामले में अब राज्य सभी 36 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को पीछे छोड़ते हुए 9 वें नंबर पर पहुंच गया है। वहीं राज्य में प्रति एक लाख पर 33 मौतें कोरोना संक्रमण की वजह से हुई हैं। वहीं  प्रदेश यूपी, बिहार जैसे बड़े राज्यों से कोविड के मौत के मामलों में काफी आगे है। यूपी एक लाख पर 8 मौत के साथ 27वें स्थान पर है, जबकि बिहार प्रति लाख पर 3 मौत के साथ 33वें, मध्य प्रदेश 24वें, राजस्थान 28वें स्थान पर हैं।

यह भी पढ़े:उत्तराखंड: शराब दुकाने खुलने से पहले ही लगी लंबी कतारें, जान से बढ़ कर है शराब

गौरतलव है कि सोशल डेवलपमेंट फॉर कम्युनिटी फाउंडेशन ने कोविड अध्ययन में इस पर चिंता जताई है। फाउंडेशन के संस्थापक अनूप नौटियाल ने जानकारी देते हुए बताया कि उत्तराखंड में कोविड से मौतें चिंता बढ़ा रही हैं। उनका कहना है कि यह हालात तब हैं, जब पूरा फोकस राज्य के उन मैदानी हिस्सों पर है, जहां संक्रमण सबसे ज्यादा है और उससे निपटने के लिए स्वास्थ्य का बुनियादी ढांचा भी पहले से मौजूद है। पर जिस तरह से पिछले एक हफ्ते में पर्वतीय जिलों में संक्रमण के मामले आ रहे हैं, तो इन आंकड़ों के आगे चिंता और बढ़ जाती है।

टॅाप-10 में कौन कितने स्थान पर-

प्रति लाख की आबादी पर 116 की कोविड से मौत के साथ दिल्ली पहले, गोवा 112 दूसरे, पुडुचेरी 80 मौत तीसरे, महाराष्ट्र 67 चौथे, चंडीगढ़ 52 पांचवें, लद्दाख 51 छठे, छत्तीसगढ़ 41 सातवें और पंजाब 80 मौत के साथ आठवें स्थान पर है। इसके बाद उत्तराखंड प्रति लाख पर 33 मौत के साथ नवें और कर्नाटक दसवें स्थान पर है।

0/Post a Comment/Comments

Stay Conneted

Hot Widget