उत्तराखंड: दुल्हन को थी शादी की जल्दी, बारात लेकर पहुंच गई दुल्हे के घर

चंपावत: उत्तराखंड में शादियों का सीजन चल रहा है, जहां से कोरोना काल के बीच अनोखी शादी होने की कई खबरे सामने आती रहती है. इसी कड़ी में प्रदेश का चंपावत ज़िला एक बार फिर एक अनोखी शादी का गवाह बन गया है. जहां दुल्हन बारात लेकर दुल्हे के घर पहुंच गई.

क्या है पूरा ममला:

चंपावत स्थित पुनाबे गांव की प्रियंका का विवाह स्वाला गांव के प्रकाश भट्ट के साथ हुई थी. लेकिन स्वाला गांव में एक साथ 47 लोग कोविड-19 से ग्रस्त पाए गए. जिसके कारण उस गांव को मंगलवार को कंटेनमेंट जोन बना दिया गया. इस वजह से तय की गई विवाह में अड़चन पैदा हो गई और शादी को रोकने की संभावना जताई जाने लगी.

कैसे किया समाधान:

इस बाधा से निपटने के लिए और कोविड गाइडलाइन के पालन की शर्त के साथ यह तय किया गया कि कन्या पक्ष के लोग स्वाला जाएंगे. जिसके बाद दुल्हन पक्ष ने प्रशासन से परमिशन लेकर और कोविड नियमों का पालन करते हुए चार लोगों के साथ बीते दिन दुल्हे के घर जा पहुंची. 

जहां दोनों ने दुल्हे के घर पर ही सात फेरे लेकर अपने नए जीवन की शुरुआत की. विवाह संपन्न होने के बाद दुल्हन की मां, पिता और पुरोहित वापस अपने गांव पुनाबे लौट गए. प्रशासन द्वारा दिए गये निर्देशानुसार तीनों लोगों होम आइसोलशन मे हैं. जबकि प्रियंका अपने ससुराल में ही रहेगी.

चम्पावत की तहसीलदार ज्योति धपवाल ने जानकारी देते हुए कहा कि स्वाला गांव में 47 लोगों के पॉजिटिव आने पर गांव को कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया था. कंटेनमेंट जोन से बाहर जाना प्रतिबंधित होता है.

0/Post a Comment/Comments

Stay Conneted

Hot Widget