भारत बंद : उत्तराखंड में भी दिख रहा है भारत बंद का असर, पूरी जानकरी के लिए पढ़े ये खबर

देहरादून -उत्तराखंड में भी किसानों के भारत बंद का असर सोमवार सुबह से ही दिख रहा है। इस बंद को लेकर पुलिस-प्रशासन भी अलर्ट मोड पर है। ऊधमसिंह नगर जिले के रुद्रपुर में भारत बंद को लेकर किसानों, व्यापार मंडल पदाधिकारियों और कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने जुलूस निकाला। वहीं सोमवार को साप्ताहिक बंदी की वजह से ज्यादातर दुकानें बंद हैं। यहां सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए पुलिस फोर्स को भी तैनात किया गया है ।

यह भी पढ़े: उत्तराखंड में 'शक्तिमान' की मौत मामले में आरोपी मंत्री बरी, पूरी जानकारी के लिए पढ़े ये खबर

बता दें कि तीन कृषि कानूनों को तत्काल वापस लेने, एमएसपी पर कानून बनाने सहित विभिन्न मांगों को लेकर संयुक्त किसान मोर्चा ने सोमवार को भारत बंद शुरू कर दिया है। इस क्रम में उत्तराखंड के कई जिलों में बंद का असर दिखाई दे रहा है। किसान संगठनों द्वारा यह बंद सोमवार सुबह 6 बजे से लेकर शाम 4 बजे तक के लिए किया गया है। विदित है कि तीनों कृषि काननों को वापस लेने सहित विभिन्न मांगों को लेकर किसान विगत 300 से भी अधिक दिनों से संयुक्त किसान मोर्चा के बैनर तले देशभर में आंदोलित हैं। 

यह भी पढ़े: दलित को उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पद पर देखना चाहता हूं, हरीश रावत ने जारी किया बयान

बाजपुर में हाईवे पर वाहनों को रोका

इसी कड़ी में  प्रदर्शनकारियों ने बाजपुर में हाईवे पर वाहनों को रोक दिया है। जिसकी सूचना मिलते ही  पुलिस बल के साथ सीओ मौके पर पहुंचे हैं। हल्द्वानी में भारत बंद अभी तक सफल नजर नहीं आ रहा है। बाजार में अधिकतर दुकानें, फल-सब्जी मंडी खुली हुईं हैं। वहीं हल्द्वानी में संयुक्त किसान मोर्चा एवं अन्य संगठनों के लोगों ने जुलूस निकाला और कहा कि कृषि कानून वापस न होने तक यह विरोध जारी रहेगा।

यह भी पढ़े: उत्तराखंड में आज से खुले प्राइमरी स्कूल, ये होंगी गाइडलाइन्स

डोईवाला का बाजार सुबह पूरी तरह से बंद

संयुक्त किसान मोर्चा के भारत बंद के तहत सोमवार को डोईवाला का बाजार सुबह पूरी तरह से बंद रहा। केंद्रीय कृषि बिल के विरोध में किसानों ने डोईवाला चौक पर नारेबाजी कर प्रदर्शन किया। इस दौरान मोर्चा अध्यक्ष राजेंद्र सिंह, भारतीय किसान यूनियन के अध्यक्ष सुरेंद्र सिंह खालसा, गुरदीप सिंह, जाहिर अंजुम, याकूब अली, इंद्रजीत सिंह, लाडी बलवीर सिंह समेत काफी संख्या में किसान मौजूद रहे।

यह भी पढ़े: UKMSSB Recruitment 2021 : उत्तराखंड में टेक्नीशियन भर्ती की आवेदन तिथि बढ़ी, पूरी जानकारी के लिए पढ़े ये खबर

दून में डीएम ऑफिस तक शांतिपूर्ण ढंग से निकलेगा मार्च 

साथ ही साथ कृषि कानूनों को तत्काल वापस लेने, एमएसपी पर कानून बनाने सहित विभिन्न मांगों को लेकर संयुक्त किसान मोर्चा के बंद के दौरान भाकियू टिकैत देहरादून में घंटाघर से डीएम ऑफिस तक शांतिपूर्वक मार्च निकालकर डीएम के माध्यम से राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री को ज्ञापन प्रेषित करेगा। दून में कांग्रेस व्यापार प्रकोष्ठ के अलावा किसी अन्य व्यापारिक संगठन ने बंद को समर्थन देने से इंकार किया है। किसान शांतिपूर्ण ढंग से डीएम के माध्यम से राष्ट्रपति तक अपनी मांग पहुंचाएंगे। 

0/Post a Comment/Comments

Stay Conneted

Hot Widget